रोज एक्सरसाइज नहीं करने से शरीर में आती है अकड़न, राहत दिलाएंगे घर के कुछ

- in लाइफस्टाइल

अगर आप रेगुलर एक्सरसाइज नहीं करते हैं, तो अक्सर एक्सरसाइज के अगले दिन आपके शरीर में दर्द होता है। कई बार ये दर्द इतना ज्यादा होता है कि उठने-बैठने में भी मुश्किल होती है। आमतौर पर ऐसा इसलिए होता है कि क्योंकि जो लोग ज्यादा मेहनत वाले काम नहीं करते हैं उनके टिशूज अकड़ जाते हैं। अचानक ज्यादा मेहनत करने से टिशूज क्रैक हो जाती हैं, जिससे दर्द होने लगता है। अगर आप लगातार मेहनत करते हैं तो टिशूज में लचीलापन बना रहता है और मेहनत वाले कामों से आपको परेशानी नहीं होती है। कुछ घरेलू नुस्खों द्वारा इस तरह के दर्द से राहत पाई जा सकती है।

एक्सरसाइज

बर्फ से करें सिंकाई

एक्सरसाइज के बाद मांसपेशियों में होने वाले दर्द से राहत के लिए बर्फ से सिंकाई कर सकते हैं। प्रभावित स्थान पर बर्फ लगाने से सूजन और दर्द में आराम मिलता है। बस ये ध्यान में रखें कि जब भी बर्फ लगाएं, 15 मिनट से ज्यादा देर के लिए न लगाएं। इसके अलावा यह भी याद रखें कि बर्फ का प्रयोग सीधे त्वचा पर न करें, बल्कि किसी तौलिए या कपड़े में रखकर ही बर्फ से सिंकाई करें।

प्रोटीनयुक्त डाइट लें

मांसपेशियों के दर्द को जल्द ठीक करने में आपका खान-पान भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हेल्दी प्रोटीन्स, कार्बोहाइड्रेट्स और फैट्स खाने से मसल टिश्यूज़ जल्दी रिपेयर होते हैं। आप अपने फिटनेस एक्सपर्ट से पूछकर प्रोटीन सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं। आपको बता दें कि जब आप सोते हैं, तब शरीर मसल रिपेयर तेज़ी से करता है।

बैडमिंटन : सैयद मोदी चैम्पियनशिप के मिश्रित युगल वर्ग में भारत को निराशा

फोम रोल का प्रयोग

वर्कआउट के बाद आप फोम रोलर्स लेकर अपनी मांसपेशियों पर मसाज करें, जैसे- टांगों पर। इसे नीचे के ऊपर की तरफ ले जाएं और कम-से-कम 5 बार करें। आपको शरीर के जिस भी हिस्से पर दर्द महसूस हो रहा है, वहां सबसे ज़्यादा करें। इससे आराम मिलेगा। आप चाहें, तो फोम रोलर्स का इस्तेमाल वर्कआउट के बीच ब्रेक लेकर भी कर सकते हैं।

हल्की-फुल्की एक्सरसाइज करते रहें

वर्कआउट के बाद शरीर में दर्द होने पर आमतौर पर लोग अगले दिन एक्सरसाइज नहीं करते हैं, जिससे उन्हें बाद में परेशानी होती है। दर्द में प्रॉपर एक्सरसाइज करना तो मुश्किल है मगर हल्की-फुल्की स्ट्रेचिंग करने से दर्द जल्दी ठीक होता है और एक्सरसाइज की रेगुलरटी भी नहीं टूटूती है। सही तरीका यही है कि आप अपनी क्लास में जाएं और वर्कआउट करें, ताकि आपका एक्सपर्ट आपको मसल सोरनेस से रिलीफ दिलाने में मदद कर सके। 2-3 दिन के बाद आपका सारा दर्द भाग जाएगा।

मध्य प्रदेश में 23 और 24 को बड़ी जनसभाएं करने की तैयारी में राहुल

फैटी एसिड्स वाले आहार लें

जब मांसपेशियों के टिश्यूज़ ब्रेक होते हैं, तो उस जगह पर दर्द भी होता है और सूजन भी आ जाती है। इसे कम करने के लिए वो फूड्स खाएं जिनमें ओमेगा-3 फैटी एसिड्स मौजूद हों, जैसे- फिश, मीट, फ्लेक्स, एवोकैडो, अखरोट।